श्री राजनाथ सिंह ने एनसीसी के बहादुर जवानों को रक्षा मंत्री पदक और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने 21 जनवरी, 2021 को राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के गणतंत्र दिवस शिविर-2021 का दौरा किया। इस दौरान रक्षा मंत्री ने एनसीसी कैडेट्स को उनके 'अनुकरणीय प्रदर्शन और कर्तव्य परायणता' के लिए रक्षा मंत्री पदक और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया। इस कार्यक्रम का आयोजन नई दिल्ली के दिल्ली कैंट में किया गया।

कार्यक्रम स्थल पर श्री राजनाथ सिंह का स्वागत एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल तरुण कुमार ऐच ने किया। इस दौरान सुसज्जित एनसीसी कैडेट्स की तीन ईकाइयों- सेना, नौसेना और वायु सेना ने रक्षा मंत्री को बेहतरीन गार्ड ऑफ ऑनर पेश किया।

कार्यक्रम में बिहार और झारखंड निदेशालय से सीनियर अंडर ऑफिसर (एसओयू) प्रशांत कुमार तिवारी और उत्तर प्रदेश निदेशालय के लेफ्टिनेंट कमांडर जितेंद्र पाल सिंह को रक्षा मंत्री पदक से सम्मानित किया गया। इस पदक को पहली बार 1989 में दिया गया था। तब से हर वर्ष हकदार कैडेट्स को उनकी उच्च स्तरीय बहादुरी और असाधारण सेवाओं के लिए ये पदक दिया जाता है। वहीं जम्मू, कश्मीर एवं लद्दाख निदेशालय की लेफ्टिनेंट शिवानी शर्मा, कर्नाटक एवं गोवा निदेशालय के एसयूओ श्रीषमा हेगडे, पश्चिम बंगाल एवं सिक्कम निदेशालय के कैडट सैयद शाजिद और दिल्ली निदेशालय की वरिष्ठ जीसीई नीवा सिंह को रक्षा मंत्री प्रशस्ति पत्र भेंट किए गए।

श्री राजनाथ सिंह ने अपने संबोधन में एनसीसी को 'एक्सरसाइज एनसीसी योगदान' के माध्यम से कोरोना वारियर्स के रूप में योगदान के लिए बधाई दी। देश भर के 1,39,961 कैडेट्स और 21,380 कर्मचारियों ने विभिन्न गतिविधियों से कोविड-19 महामारी की रोकथाम के लिए चलाए गए अभियान में भाग लिया। यातायात प्रबंधन, खाद्य और आवश्यक वस्तुओं का वितरण, कतार प्रबंधन, जरूरतमंद लोगों के लिए फेस मास्क तैयार करना और वितरण आदि महत्वपूर्ण कार्यों में कैडेट्स ने अहम भागीदारी निभाई है। रक्षा मंत्री ने सभी कैडेट्स के लाभ के लिए एनसीसी प्रशिक्षण ऐप और डिजिटल फोरम शुरू करके डिजिटलीकरण की दिशा में पहल करने के लिए भी एनसीसी की प्रशंसा की।

15 अगस्त, 2020 को लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई इस घोषणा कि भारत के सीमावर्ती औऱ तटीय क्षेत्रों में एनसीसी के एक लाख कैडेटों का विस्तार किया जाएगा, इस संदर्भ में रक्षा मंत्री ने अपनी खुशी व्यक्त करते हुए एनसीसी को बेहद कम वक्त में इस आंकड़े को छूने के लिए बधाई दी। देश के सीमावर्ती और तटीय क्षेत्रों के 1,104 स्कूलों और कॉलेजों से एक लाख से ज्यादा कैडेट नामांकित हो चुके हैं।

श्री राजनाथ सिंह ने एनसीसी बिरादरी की प्रशंसा अपनी विविध गतिविधियों से डिजिटल इंडिया, आत्मनिर्भर भारत, राष्ट्रीय एकीकरण और राष्ट्र निर्माण के लिए अपना अमूल्य योगदान देने के लिए भी की। उन्होंने कहा कि एनसीसी राष्ट्र के युवाओं को एक सामंजस्यपूर्ण और अनुशासनात्मक बल के रूप में परिवर्तित करके राष्ट्र की सेवा कर रहा है