जिला कलक्टर ने किया कोविड हैल्प डेस्क का निरीक्षण, डेस्क को निजी अस्पतालों से जोड़ने के निर्देश

 जिला कलक्टर श्री अन्तर सिंह नेहरा ने बुधवार को राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज (आरयूएचएस) मेडिकल कॉलेज में स्थापित कोविड सहायता डेस्क का निरीक्षण किया एवं डेस्क के हैल्पलाइन नम्बर पर अब तक प्राप्त हुए प्रकरणों में की गई कार्यवाही का अवलोकन किया। उन्होंने इस हैल्प डेस्क को निजी अस्पतालों से जोड़ने के साथ ही डेस्क को और उपयोगी बनाने के लिए निर्देश भी प्रदान किए। 

 

श्री नेहरा बुधवार को दोपहर पूर्व आरयूएचएस पहुंचे एवं वहां डेस्क पर काम कर रहे चिकित्सकों एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों से फीडबैक प्राप्त किया। यहां हैल्प डेस्क के संचालन की सम्पूर्ण व्यवस्थाएं देखने के बाद उन्होंने अस्पताल प्रशासन को पाबन्द किया कि हेल्प डेस्क पर अविलम्ब इंटरनेट कनेक्शन की व्यवस्था की जाए। इसके जरिए यह डेस्क सभी प्रमुख निजी अस्पतालों से जुड़ सकेगी एवं वहां के नोडल अधिकारियों से सम्पर्क में रहकर कोविड मरीजों के लिए उपलब्ध बैड्स की संख्या की अद्यतन जानकारी इस डेस्क पर उपलब्ध रह सकेगी। 

 

श्री नेहरा ने हैल्प डेस्क पर कार्मिकों के रोटेशन, वहां लगाए गए अधिकारियों-कार्मिकों के  दायित्वों के बारे में, वहां कोविड मरीजों के लिए बैड्स की आवश्यकता, कोविड जांच के लिए किए जाने वाले सवाल-जवाब, ऑक्सीजन, बैड की उपलब्धता के सम्बन्ध में निर्देश प्रदान किए। इस निरीक्षण में अतिरिक्त जिला कलक्टर चतुर्थ श्री अशोक कुमार, आरयूएचएस के अधीक्षक श्री डीपी मीणा, प्रिंसीपल श्री सुधांशु कक्कड़, हैल्प डेस्क के समग्र प्रभारी उपखण्ड मजिस्टे्रट जयपुर दक्षिण श्री जगत राजेश्वर सहित एसएमएस अस्पताल एवं आरयूएचएस के चिकित्सक एवं जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 

Most Read