महात्मा गांधी की कलाकृति ओ टी एस को भेंट

हरिश्चन्द्र माथुर राजस्थान राज्य लोक प्रशासन संस्थान, जयपुर की न्यू होस्टल बिल्डिंग को एस्थेटिक रूप देने के उद्देश्य से श्री गोपाल स्वामी खेतांची द्वारा महात्मा गांधी की कलाकृति ओटीएस को भेंट की गयी। यह कलाकृति श्री गोपाल स्वामी खेतांची के मार्गदर्शन में श्री हरी राम कुम्भावत  द्वारा बनायी गयी है। 

हरिश्चन्द्र माथुर राजस्थान राज्य लोक प्रशासन संस्थान, जयपुर  के महानिदेशक श्री संदीप वर्मा ने बताया कि इस कलाकृति में अहिंसा, शान्ति, सत्य एवं अमरत्व के प्रतीक महात्मा गाँधीजी के पास तीन कौवे दर्शाए गए है। 

इससे पहले भी राजस्थान केडर के 1994 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के 5 वरिष्ठ अधिकारियों ने पहल करते हुए ओ.टी.एस. को राज्य के जाने-माने चित्रकार श्री खुश नारायण जांगिड़ की कोरोना काल को दर्शाते हुए राजस्थान मिनिएचर शैली की कलाकृति भेंट की थी। इस प्रकार प्राप्त सभी कलाकृतियां न्यू होस्टल बिल्डिंग पूर्ण होते ही आगामी 2-3 माह में उसकी मैन लॉबी में प्रदर्शित की जावेगी। 

उल्लेखनीय है कि ओ.टी.एस. द्वारा राजस्थान केडर के सभी भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों एवं राजस्थान राज्य सेवाओं के अधिकारियों की आधारभूत, संस्थागत एवं मिड-केरियर ट्रेनिंग प्रदान की जाती है। अभी हाल ही में ओ.टी.एस. ने विभिन्न एसोसिएशन का आव्हान किया है कि वे राजस्थान में कार्यरत मूर्तिकारों की मूर्तियाँ संस्थान को भेंट करें जिनको ओ.टी.एस. परिसर के मुख्य स्थानों पर प्रदर्शित कर कैम्पस की शोभा बढ़ाई जायेगी। विदेशी संस्थानों एवं शिक्षण संस्थानों में इस प्रकार की भेंट एक सामान्य प्रक्रिया है। जिससे प्रेरित होकर ओ.टी.एस. द्वारा भी सभी राज्य सेवाओं से आव्हान किया गया है कि वे एक बैच के रूप में अथवा इन्डीविजुअल केपेसिटि में कलाकृतियों का योगदान करें जिन्हें न्यू होस्टल बिल्डिंग की ओपन गैलरी में प्रदर्शित किया जा सके। 

इसके साथ ही ओ.टी.एस. द्वारा राज्य के वरिष्ठ कलाकारों एवं मूर्तिकारों से भी पृथक से आव्हान किया गया है कि वे भी यथा संभव अपनी-अपनी मूर्तियां/कलाकृतियां संस्थान के लिए भेंट कर सकते हैं।

 

RELATED NEWS

VIEW ALL