पंचायत चुनाव-2020 केंद्र और राज्य सरकार के कोरोना संबंधी दिशा-निर्देशों

 राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त श्री पीएस मेहरा ने कहा कि राज्य की 3847 ग्राम पंचायतों में होने वाले चुनाव के दौरान केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जारी किए दिशा-निर्देशों की पालना सुनिश्चित करते हुए आम चुनाव संपादित करवाए जाएं। 

श्री मेहरा बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंंिसग के जरिए प्रदेश के 26 जिला कलेक्टर (जिला निर्वाचन अधिकारी), पुलिस आयुक्त और अधीक्षकों के साथ चुनावी तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव की तुलना में कोरोना के चलते इस बार के चुनाव ज्यादा चुनौती से भरे हैं। ऎसे में कोरोना से जुड़े तमाम प्रोटोकॉल्स की पालना करते हुए हमें चुनाव करवाने होंगे। उन्होंने कोविड-19 से जुड़े सभी नियमों के साथ सभी नियमों के साथ मतदान केंद्रों की मॉक ड्रिल करवाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कार्मिकों के प्रशिक्षण से लेकर मतगणना तक हमें मास्क, सेनेटाइजर पर्याप्त मात्र में उपलब्ध करवाकर सामाजिक दूरी के साथ सभी कार्यक्रम संपादित करवाने होंगे। 

चुनाव आयुक्त ने सभी जिलाधीशों से मतदान के समय अपनाए जाने वाले दिशा-निर्देशों का प्रचार-प्रसार भी स्थानीय मीडिया के जरिए करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी मतदान केंद्रों पर आयोग द्वारा जारी ‘कोरोना से बचाव भी और पंचायत चुनाव भी‘ संबंधी जागरूकता पोस्टर लगाए जाएं।  

श्री मेहरा ने जिला निर्वाचन अधिकारियों से मतदान दलों का गठन, प्रशिक्षण एवं मतगणना व्यवस्था, ईवीएम तैयार करने के लिए स्थान का चिन्हीकरण,जोनल मजिस्टे्रट एवं एरिया मजिस्टे्रट की नियुक्ति एवं प्रशिक्षण, समस्त मतदान केन्द्रों का भौतिक सत्यापन उपखंड अधिकारी या तहसीलदार स्तर से करवाने के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई। इस दौरान क्रिटीकल एवं वलनरेबल मतदान केन्द्रों, मतदान केन्द्रों पर उपलब्ध सुविधा यथा पानी, बिजली, शौचालय आदि के संबंध में, कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए मतदान सामग्री वितरण केन्द्र, मतदान केन्द्र, मतगणना एवं मतदान सामग्री संग्रहण स्थल पर की जाने वाली व्यवस्थाओं के संबंध में, मास्क, सैनेटाइजर, ग्लव्ज आदि के क्रय एवं उपलब्धता, सांख्यिकी सूचनाओं को आयोग की वेबसाइट पर प्रदर्शित करने ऑनलाइन फीडिंग, मीडिया रिपोर्ट, शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही, व्यय में मितव्ययता बरतने और समस्त गतिविधियों के दौरान कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए प्रचार-प्रसार के संबंध में विस्तार से बातचीत की। 

चुनाव आयुक्त ने पुलिस आयुक्त और अधीक्षकों से नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने के लिए भेजे जाने वाले दल के साथ पुलिस कर्मियों की व्यवस्था एवं संबंधित थाने के थानाधिकारी द्वारा उक्त पंचायतों पर सतत् निगरानी रखने के संबंध में, क्रिटीकल एवं वलनरेबल मतदान केन्द्रों का चिन्हीकरण एवं इन केन्द्रों के लिए की गई पुलिस बल की व्यवस्था, और मतदान, मतगणना एवं मतगणना के पश्चात् कानून व्यवस्था तथा इसके लिए तैयार की गई कार्य योजना पर भी चर्चा की।

इस दौरान राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव श्री श्यामसिंह राजपुरोहित, उप सचिव श्री अशोक जैन सहित विभाग के अधिकारीगण उपस्थित रहे।